Fight against Covid-19 is very complicated and fairly new. Each passing day medical professionals are discovering new symptoms in patients which leads to new investigational therapies amongst the medical staff.
One of such symptom is CRS (Cytokine Release Syndrome).
What causes CRS?
CRS occurs when the immune system is fighting pathogens, as cytokines produced by immune cells recruit more effector immune cells such as T-cells and inflammatory monocytes (which differentiate into macrophages) to the site
of inflammation or infection. In addition, pro-inflammatory cytokines binding their cognate receptor on immune cells results in activation and stimulation of further cytokine production.[10] This process, when dysregulated, can
be life-threatening due to systemic hyper-inflammation, hypotensive shock, and multi-organ failure.
To control these CRS symptoms it’s highly likely that medical professional may want to conduct an investigational therapy with ‘Tocilizumab’ sold under the brand name ‘Actemra’. The major concern for any patient or his/her
family will be trying to arrange this particular injection in a given limited frame of time. As per the sources, due to sudden high demand of this medicine in the event of pandemic its very difficult to arrange a vial in such a short
time frame. We at Swasthabharat.org have shared the contact details of two major distributors in Mumbai where you must likelybe able to get this medicine. One vial of 400mg Actemra should cost you around Rs. 31500,
however, due to the widening gap in demand and supply its likely that you might end up buying it for anywhere between Rs. 40000 to Rs. 50000.
If you have questions about ‘Actemra’, please visit their respective website https://www.actemra.com/ Please make sure to go through Prescribing Information, Medication Guide and Side effects of this particular medicine.

कोविद -19 के खिलाफ लड़ाई बहुत जटिल और काफी नई है। प्रत्येक बीतते दिन चिकित्सा पेशेवर रोगियों में नए लक्षणों की खोज कर रहे हैं जो चिकित्सा कर्मचारियों के बीच नए जांच उपचार की ओर जाता है।
ऐसे लक्षणों में से एक सीआरएस (साइटोकिन रिलीज सिंड्रोम) है।
क्या कारण है CRS?
सीआरएस तब होता है जब प्रतिरक्षा प्रणाली रोगज़नक़ों से लड़ रही होती है, क्योंकि प्रतिरक्षा कोशिकाओं द्वारा निर्मित साइटोकिन्स साइट पर टी-कोशिकाओं और भड़काऊ मोनोसाइट्स (जो मैक्रोफेज में अंतर करते हैं) जैसे अधिक प्रभावकारी प्रतिरक्षा कोशिकाओं को भर्ती करते हैं।
सूजन या संक्रमण का। इसके अलावा, प्रो-भड़काऊ साइटोकिन्स प्रतिरक्षा कोशिकाओं पर अपने संज्ञानात्मक रिसेप्टर को बांधने से सक्रियता और आगे साइटोकिन उत्पादन की उत्तेजना होती है। [१०] इस प्रक्रिया, जब रोगग्रस्त, कर सकता है
प्रणालीगत अति-सूजन, हाइपोटेंशन शॉक और मल्टी-ऑर्गन फेल्योर के कारण जानलेवा हो सकता है।
सीआरएस के इन लक्षणों को नियंत्रित करने के लिए यह अत्यधिक संभावना है कि चिकित्सा पेशेवर ब्रांड नाम ‘एक्टेम्रा’ के तहत बेचे जाने वाले ‘टोसीलिज़ुमाब’ के साथ एक जांच चिकित्सा करना चाहते हैं। किसी भी मरीज या उसके लिए प्रमुख चिंता का विषय है
परिवार इस विशेष इंजेक्शन की व्यवस्था एक सीमित समय सीमा में करने का प्रयास करेगा। सूत्रों के अनुसार, महामारी की स्थिति में इस दवा की अचानक उच्च मांग के कारण इतनी कम मात्रा में शीशी की व्यवस्था करना बहुत मुश्किल है
समय सीमा। Swasthabharat.org पर हमने मुंबई के दो प्रमुख वितरकों के संपर्क विवरण साझा किए हैं जहाँ आपको इस दवा को प्राप्त करने में सक्षम होना चाहिए। 400mg Actemra की एक शीशी आपको लगभग रु। 31500,
हालाँकि, मांग में व्यापक अंतर के कारण और इसकी संभावना की आपूर्ति के कारण कि आप इसे रु। के बीच में कहीं भी खरीद सकते हैं। 40000 से रु। 50000।
यदि आपके पास ‘एक्टेम्रा’ के बारे में प्रश्न हैं, तो कृपया उनकी संबंधित वेबसाइट https://www.actemra.com/ पर जाएं। कृपया इस विशेष दवा के प्रिस्क्रिप्शन सूचना, दवा गाइड और साइड इफेक्ट्स के माध्यम से जाना सुनिश्चित करें।

Leave a Comment